apple ios vs android mein antar सब कुछ हिन्दी मे                    

84

apple ios vs android mein antar  सब कुछ हिन्दी मे                    

apple ios vs android mein antar  क्या आप जानना चाहते हैं apple ios vs android में कौन आपके लिए अच्छा है और आपको कौन सा खरीदना चाहिए और इन दोनों में क्या अंतर होता है और इनमें महंगा कौन सा होता है एंड्रॉयड महंगा होता है या आईओएस महंगा होता है और इनमें क्या विशेषता होती है जो एक दूसरे से अलग बनाती हैं अगर आप इन सब के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में लास्ट तक बने रहे क्योंकि इस आर्टिकल में हम इन सब के बारे में विस्तार से बात करेंगे

apple ios vs android mein antar हिन्दी मे 

एंड्रॉयड आईओएस वर्सेस एप्पल आईओएस  दोनों ही एक प्रकार के ऑपरेटिंग सिस्टम है जिनका इस्तेमाल स्मार्टफोन में किया जाता है आपने देखा होगा आईओएस वर्जन आपको एप्पल में देखने को मिलते हैं और जितने भी मोबाइल रहते हैं बाह  android रहते हैं जैसे कि वीवो ओप्पो mi  वगैरा

 1. कस्टमाइजेशन

कस्टमाइजेशन फीचर्स की बात की जाए तो आज के टाइम पर लगभग सभी एंड्राइड मोबाइल में कस्टमाइजेशन आपको देखने को मिलता है क्योंकि कस्टमाइजेशन के द्वारा आप अपने मोबाइल का थीम काफी आसानी से बदल सकते हैं इसके अलावा आप उसके आईकॉन ऑप्शन को भी चेंज कर सकते हैं और आप एंड्रॉयड मोबाइल में लॉन्चर डाउनलोड करके उसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं और भी बहुत सारे फीचर्स हैं जो केवल आपको एंड्राइड में देखने को मिलते हैं वाह ios वर्जन की बात की जाए तो इसमें भी कस्टमाइजेशन दिया जाता है लेकिन उसकी एक लिमिट होती है कस्टमाइजेशन एंड्रॉयड के मुकाबले काफी कम होता है इस मामले में एंड्रॉयड मोबाइल से काफी आगे हैं

2  Device option

दोस्तों अगर आप भी एक स्मार्टफोन खरीदने की सोच रहे हैं तो आपको बाजार में एंड्रॉयड मोबाइल के कई सारे वर्जन मिल जाएंगे और आप 3000 से लेकर 6000 और 10000 में काफी अच्छा एंड्रॉयड मोबाइल खरीद सकते हैं और यह सब ऑप्शन आपको android मैं काफी आसानी से मिल जाते हैं लेकिन एप्पल आईफोन आईओएस वर्जन की बात करें तो इसमें आपको ज्यादा ऑप्शन नहीं है और आम आदमी को खरीदना यह काफी महंगा होता है क्योंकि आम आदमी के बजट से बाहर होता है आईओएस वर्जन जो होते हैं वह मार्केट में काफी ज्यादा महंगे लॉन्च किए जाते हैं एंड्राइड मोबाइल तो बहुत सारी कंपनियां बनाती हैं और इसी कंपटीशन के कारण मार्केट में आपको एंड्राइड के काफी अच्छे-अच्छे मोबाइल काफी कम कीमत में देखने को मिलते हैं

3. File data sharing

फाइल एंड डाटा शेयरिंग दोस्तों अगर आप एंड्रॉयड फोन इस्तेमाल करते हैं तो आपको फाइल शेयरिंग के लिए बहुत सारे ऑप्शन मिल जाते हैं जैसे कि आप shareit  का इस्तेमाल कर सकते हैं ब्लूटूथ का भी फाइल शेयर करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं यह सारे फीचर्स आपको एप्पल के ios  में नहीं मिलते हैं अगर आप एप्पल आईओएस एंड्रॉयड मोबाइल में फाइल ट्रांसफर कर रहे हैं तो आपको काफी ज्यादा परेशानी हो सकती है और कुछ गिने-चुने एप्स के द्वारा ही आप एंड्रॉयड और एप्पल में फाइल ट्रांसफर का कर सकते हैं

4. spilit screen

spilit screen एंड्राइड मोबाइल का सबसे ज्यादा बेहतरीन फीचर्स है लेकिन आपको सभी एंड्राइड मोबाइल में देखने को नहीं मिलता है इस फीचर का इस्तेमाल करके आप दो या अधिक एप्लीकेशन में एक साथ स्क्रीन देख सकते हैं और उसके अलावा आप उस मोबाइल में म्यूजिक सुन सकते हैं कॉल पर बात कर सकते हैं मैसेज भी कर सकते हैं और भी एप्लीकेशन को download कर सकते हैं यह androide का काफी अच्छा फीचर्स है लेकिन यह ios में काम नहीं करता है

5. Design model

अगर आप फोन का इस्तेमाल करते हैं तो आपको इन सब के बारे में भी जानकारी होना बहुत जरूरी हैआपने कई बार सुना होगा Androidमोबाइल लेने जा रहा हूं हमने एक एंड्राइड मोबाइल लिया है या विवो का या एंड्राइड मोबाइल है या ओप्पो का एंड्राइड मोबाइल है लेकिन आपको एक बात का पता नहीं होगा जो शायद आपके लिए जानना काफी जरूरी है Android का कोई मॉडल नहीं होता है और इसे सभी कंपनियां अपने स्मार्टफोन के अंदर एंड्राइड का इंस्टॉल करके मार्केट में इस्तेमाल करती हैं और बेचती हैं

जबकि आप एप्पल को देखेंगे तो एप्पल ऐसा कुछ भी नहीं करता क्योंकि एप्पल के पास अपने खुद का os बनाता है यानी कि ऑपरेटिंग सिस्टम बनाता है लेकिन एंड्रॉयड स्मार्टफोन कंपनियां Android का ऑपरेटिंग सिस्टम डालकर मोबाइल में बेचती हैं ऑपरेटिंग सिस्टम इन कंपनियों को फ्री में भी मिल जाता है लेकिन आप एप्पल के os की बात करते हैं तो वह किसी भी प्रकार से फ्री में नहीं मिलता है यह केवल एप्पल कंपनी के द्वारा ही बनाया जाता है इसीलिए एप्पल के मोबाइल आपने देखे होंगे महंगे आते हैं लेकिन एंड्राइड मोबाइल आपको काफी सस्ते से सस्ते में भी मार्केट में देखने को मिल जाते हैं

6. Apple iOS vs Android

अगर एप्पल कंपनी की बात की जाए तो एप्पल कंपनी के आगे एंड्राइड वर्जन कहीं पर भी नहीं टिकता क्योंकि एप्पल एक कंपनी है और एप्पल के मोबाइल बनाती है जैसे कि आई फोन की सीरीज हो गई और उसमें ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल करती है लेकिन स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों में एंड्रॉयड बहुत सारी कंपनी इस्तमाल करती है जो एंड्राइड मोबाइल बनाती हैं और उसके अंदर एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम को इंस्टॉल कर के बेचती है लेकिन ios अपने आप में एक apple खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम है इसे कोई भी कंपनी इस्तेमाल नहीं कर सकती और एप्पल के मोबाइल आपको हमेशा महंगे ही मिलेंगे क्योंकि उसमें ios का इस्तेमाल किया जाता है

apple ios vs android mein antar आर्टिकल कैसा लगा 

दोस्तों हमने हमारे इस आर्टिकल apple ios vs android mein antar में आपको बताया है कि ऐंड्रॉयड और आईओएस में क्या अंतर होता है और यह महंगे सस्ते क्यों होते हैं और इनको कौन सी कंपनियां बनाती हैं और एंड्रायड आपको मार्केट में इतने सस्ते और आईओएस वर्जन मार्केट में इतने महंगे देखने को क्यों मिलते हैं इन सब के बारे में हमने हमारे आर्टिकल में विस्तार से बताया है अगर आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल अच्छा लगता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल कैसा लगा धन्यवाद

 

Previous articleiphone 11 pro max review in hindi कैमरा से लेकर कीमत तक हिन्दी में 
Next articleandroid vs ios hindi mein android ios की जानकारी हिंदी में 
हेलो दोस्तों मेरा नाम मनोज मीना है मैं बीए फाइनल ईयर का छात्र हूं मुझे बायोग्राफी लिखना काफी पसंद है क्योंकि हिंदी में ज्यादातर जानकारी किसी के बारे में भी उपलब्ध नहीं होती इसीलिए मैं ज्यादातर जानकारी इकट्ठी कर कर पॉपुलर पर्सन के बारे में बायोग्राफी लिखता हूं आप मुझे इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो भी कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here